Month: March 2022

आधुनिक काल की विशेषताएं/adhunik hindi kavita ki visheshtayen

आधुनिक काल की विशेषताएं आधुनिक काल की विशेषताएं? आधुनिकल की प्रमुख विशेषताएँ, कवि एवं रचनाएँ – 1- देशप्रेम की भावना- इस युग के कवियों ने अपनी कविताओं में देश के…

krishnabhakti shakha ki visheshtayen/कृष्ण भक्ति शाखा विशेषताएँ /

krishnabhakti shakha ki visheshtayen krishnabhakti shakha ki visheshtayen ? भक्तिकाल को दो भागों में विभाजित किया गया है। कृष्ण भक्ति शाखा विशेषताएँ 1- सगुण कृष्ण की उपासना- इस युग के…

ज्ञानमार्गी शाखा की विशेषताएँ / gyanmargi shakha ki visheshtayen /

ज्ञानमार्गी शाखा की विशेषताएँ ज्ञानमार्गी शाखा की विशेषताएँ ? निर्गुण काव्यधारा को दो भागों में विभाजित किया गया है। Gyanmarigi shakha ki pramukh visheshtayen- 1-ज्ञान को ही भक्ति का आधार…

सूफी काव्यधारा की प्रमुख विशेषताएँ/अथवा प्रेममार्गी शाखा /

सूफी काव्यधारा की प्रमुख विशेषताएँ सूफी काव्यधारा की प्रमुख विशेषताएँ? प्रेममार्गी की प्रमुख विशेषताएँ (प्रवृत्तियाँ) 1-प्रेम-भावना की प्रधानता- इस युग की रचनाओं में नायक-नायिका के प्रेम का सुन्दर चित्रण किया…

vigyapan lekhan class 10 /vigyapan lekhan hindi/विज्ञापन लेखन 1

vigyapan lekhan class 10 vigyapan lekhan class 10? यहाँ पर विज्ञापन लेखन भाग 1 के अंतर्गत 10 विज्ञापन के महत्वपूर्ण उदाहरण प्रस्तुत कर रहा हूँ विज्ञापन लेखन भाग 1 प्रश्न-1.टूथपेस्ट…

रीतिकाल की प्रमुख विशेषताएँ/रीतिकाल की प्रमुख विशेषताएं बताइए

रीतिकाल की प्रमुख विशेषताएँ रीतिकाल की प्रमुख विशेषताएँ? 1-आश्रयदाताओं की प्रशंसा- इस काल के कवि राजाओं के आश्रय में रहते थे। वे उन्हीं के गुण गाते थे। 2-जनता की उपेक्षा-…

रामभक्ति शाखा की विशेषताएँ /rambhakti shakha ki visheshtaye

रामभक्ति शाखा की विशेषताएँ रामभक्ति शाखा की विशेषताएँ? भक्तिकाल को दो भागों विभाजित किया गया है। सगुण काव्यधारा और निर्गुण काव्यधारा । Rambhakti shakha ki pramukh visheshtayen- 1- सगुण राम…

द्विवेदी युग की विशेषताएँ /dwivedi yug ki visheshtaen

द्विवेदी युग की विशेषताएँ द्विवेदी युग की विशेषताएँ? इसे आधुनिक हिंदी कविता का दूसरा युग है। इसे पुनर्जागरण काल भी कहते हैं। सन् 1900 से 1920 तक का समय द्विवेदी…

भारतेंदु युगीन कविता की विशेषताएँ /bhartendu yug ki visheshtayen

भारतेंदु युगीन कविता की विशेषताएँ भारतेंदु युगीन कविता की विशेषताएँ? इस युग को आधुनिक हिंदी-साहित्य का प्रवेश-द्वार माना जाता है। इसे पुनर्जागरण काल भी कहते हैं। हिंदी साहित्य की लगभग…

error: Content is protected !!