anuchchhed lekhan 4

anuchchhed lekhan 4

 

anuchchhed lekhan 4? आज आप फिर नए तीन अनुच्छेद लेखन के शानदार उदाहरण समझेगें ।

अनुच्छेद लेखन के तीन उदाहरण  (पार्ट-4)


प्रश्न-निम्नलिखित में से किसी एक विषय पर दिए गए संकेत बिन्दुओं के आधार पर लगभग 80-100 शब्दों में एक अनुच्छेद लिखिए।

(i)करत-करत अभ्यास के जड़मति होय सुजान..

  • सूक्ति का अर्थ
  • निरंतर अभ्यास की महिमा
  • लगातार अभ्यास के लाभ

(ii) इंटरनेट

  • इंटरनेट क्या है?
  • संचार में क्रांति
  • लाभ और हानि

 (iii) जनसंख्या वृद्धि एक समस्या

  • जनसंख्या वृद्धि भयानक समस्या
  • जनसंख्या वृद्धि परिणाम
  • कारण और निवारण

(i)करत-करत अभ्यास के जड़मति होय सुजान

  • सूक्ति का अर्थ
  • निरंतर अभ्यास की महिमा
  • लगातार अभ्यास के लाभ

उत्तर-अनुच्छेद लेखन-(i)करत-करत अभ्यास के जड़मति होय सुजान

“करत-करत अभ्यास के, जड़मति होय सुजन,

रसरी आवत जात के, सिल पर परत निशान।”

     इस दोहे के कवि वृन्द हैं। जब कुएँ में कोमल रस्सी से लगातार पानी निकलते हैं, तब कठोर पत्थर पर रगड़ने से घिस जाता है। ठीक उसी प्रकार से मंद बुद्धि वाला व्यक्ति लगातार किसी उद्देश्य को लेकर लगातार अभ्यास करता है तो वह भी सफल हो जाता है।

      लगातार अभ्यास और परिश्रम से मनुष्य कई गुणों का विकास कर सकता है। सचिन तेंदुलकर, अमिताभ बच्चन, कालिदास, तुलसीदास, प्रेमचंद, अब्दुल कलाम आदि अपने-अपने क्षेत्र में निरंतर अभ्यास में प्रसिद्ध हुए।

     लगातार अभ्यास करने से मनुष्य अपने कार्य में जरुर सफल होता है। कोई  अच्छा गायक तभी बन सकता, जब वह मन से गाने का अभ्यास करेगा। निरंतर अभ्यास करने वाला कठिन कार्यों को आसानी से कर लेता है।


anuchchhed lekhan 4


(ii) इंटरनेट

  • इंटरनेट क्या है?
  • संचार में क्रांति
  • लाभ और हानि

उत्तर-अनुच्छेद लेखन-(ii) इंटरनेट

     इंटरनेट सूचना की एक आधुनिक तकनीक है। ये दुनिया का बहुत बड़ा नेटवर्क जाल है। जिसमें संसार भर के कंप्यूटर एक दूसरे से जुड़े रहते हैं। ये सूचना के भंडार होते हैं।

     इसमें कोई भी एक स्थान पर बैठकर संसार की सारी जानकारी मिनटों में प्राप्त कर सकता है। इसके माध्यम से किया गया कार्य सही और तेज गति से होता है। इसलिए इसे सूचना जगत की क्रांति माना जाता है।

     इसके अविष्कार से मनुष्य का जीवन सरल हो गया है। इसके माध्यम से किसी भी प्रकार की सूचना कम खर्च में प्राप्त कर सकते हैं। सन् 2020 के कोरोना संक्रमण के समय इंटरनेट ने अहम भूमिका निभाई थी। इसकी सुविधा से पैसे का लेन-देन, शिक्षा, रेलवे और हवाई टिकट बुक करना, मनोरंजन और सभी प्रकार की सूचनाओं का आदान-प्रदान करना आदि सरल एवं सुरक्षित हो गया है। एक ओर जहाँ इसके कई लाभ हैं वहीँ दूसरी ओर कुछ हानियाँ भी हैं। कुछ  अपराधी इंटरनेट के कारण दूसरों के बैंक खातों से पैसा निकाल लेते, महत्वपूर्ण डाटा चोरी कर लेते हैं। इसके इस्तेमाल से कई बच्चे और युवा वर्ग व्यर्थ में अपना समय नष्ट करते हैं।


anuchchhed lekhan 4


(iii) जनसंख्या वृद्धि एक समस्या

  • जनसंख्या वृद्धि भयानक समस्या
  • जनसंख्या वृद्धि परिणाम
  • कारण और निवारण

उत्तर-अनुच्छेद लेखन (iii) जनसंख्या वृद्धि एक समस्या

जनसंख्या वृद्धि का ये है दुष्प्रभाव।

महंगाई,बेरोजगारी और जलवायु में बदलाव।”

     भारत के सामने पहले से ही कई समस्याएँ हैं। जिनमें से एक जनसंख्या वृद्धि भी है। इसके कारण बेरोजगारी, खाने की कमी, प्रति व्यक्ति की आय में कमी, रहने की समस्या, कृषि विकास में बाधा, स्वास्थ्य और गरीबी जैसी समस्याएँ बढ़ गई हैं।

   अधिक जनसंख्या वृद्धि के कारण कई बुरे परिणाम सामने आ रहे हैं। इसकी बजह से सभी को साफ पानी और अच्छा खाना नहीं मिल पा रहा है। कृषि पर भार बढ़ रहा है। साधनों की कमी होती जा रही है। जन्म दर बढ़ रही और मृत्यु दर घट रही है।

     देश में अशिक्षा, गरीबी, जागरूकता तथा स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी और अधिक बच्चे करने की लालसाओं आदि के कारण जनसंख्या वृद्धि हो रही है। लोगों को शिक्षित, जागरूक, स्वास्थ्य सुविधा और छोटे परिवार के लाभ बताये जाएँ।


 धन्यवाद!

anuchchhed lekhan 4

डॉ.अजीत भारती

By hindi Bharti

Dr.Ajeet Bhartee M.A.hindi M.phile (hindi) P.hd.(hindi) CTET

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!